अदिति ने सीखा ब्राजीलियन ज्यू जित्सु

0
829
aditi

स्टार प्लस के प्राइमटाइम शो, ‘नामकरण’ में अवनी का मुख्य किरदार निभा रहीं
अभिनेत्री अदिति राठौर इस शो के मौजूदा ट्रैक के लिए ब्राजील की अनूठी कला ज्यू
जित्सू सीख रही हैं। यह मार्शल आर्ट्स का एक स्वरूप है। गौरतलब है कि इस शो में 6
महीने के लीप के बाद नील और अवनी के बीच अलगाव के रूप में एक नया ट्विस्ट
देखने को मिलेगा। नील (जै़न इमाम द्वारा अभिनीत) अपनी पत्नी अवनी (अदिति
राठौर) को सलाखों के पीछे डलवा देता है। अवनी पर जूही के कत्ल का झूठा आरोप
लगाया जाता है और उसे दुश्मनों से बचाने के लिये नील उसे सलाखों के पीछे डालने
का फैसला करता है। नील के इरादों से बेखबर अवनी जेल से भागने की कोशिश करती
है और उसे चकमा दे देती है। वहीं दूसरी ओर, नील सजग हो जाता है और यह
कोशिश करता है कि विद्युत, अवनी के निर्दोष होने की बात कबूल करे।
‘नामकरण’ में अवनी के अपने किरदार से दर्शकों को लुभाने वाली टेलीविजन
अदाकारा अदिति राठौर अभिनय के स्तर को एक अलग ही मुकाम पर लेकर जा रही
हैं। वह अभिनय की पारंपरिकता से अलग हटकर शो के मौजूदा ट्रैक के लिये मार्शल
आर्ट्स सीख रही हैं। हालांकि, भारत में कई तरह के मार्शल आर्ट्स फल-फूल रहे हैं, पर
अदिति ने ब्राजील की अनूठी कला ज्यू जित्सु को शो के मौजूदा ट्रैक के लिये चुना है।
इस ट्रैक में अदिति को उस वक्त जेल के गुंडों से ऐक्शन सीन करना होता है, जब वह
जेल तोड़ने की कोशिश कर रही होती हैं। अदिति ने मार्शल आर्ट्स का जो फॉर्म सीखा
है, उसके लिये बहुत ज्यादा ताकत और शरीर के सही इस्तेमाल की जरूरत होती है।
हालांकि, अदिति को ब्राजीलियन ज्यू जित्सु सीखने में कई महीनों का समय लगा,
जबकि उन्हें सिर्फ दो सीन में ही इसे परफॉर्म करना था! अदिति कहती हैं, ‘मार्शल
आर्ट्स का कोई भी फॉर्म सीखने से आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से
फायदा मिलता है। भले ही मुझे दो ही सीन के लिये इसे परफॉर्म करना था, फिर भी
मैंने ब्राजीलियन ज्यू जित्सु को सही तरीके से सीखा, क्योंकि यह आत्मरक्षा का बहुत
ही अच्छा तरीका है और मैंने इसे एक मौके के रूप में लिया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here