अपने विद्यालय के शिक्षक की उपलब्धि को तापसी का समर्थन

0
790
Taapsee Pannu

अभिनेत्री तापसी पन्नू नई दिल्ली के गुरु तेग बहादुर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की एक अर्हताप्राप्त इंजीनियर हैं, और उन्होंने दिल्ली के अशोक विहार स्थित माता जय कौर पब्लिक स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा प्राप्त की है। वह स्कूल के सबसे प्रतिभाशाली छात्रों में से एक थीं जिन्हें सभी शिक्षकों द्वारा बेहद पसंद एवं प्रोत्साहित किया जाता था,जिसमें उनके अंग्रेजी विषय की शिक्षिका का विशेष स्थान है। अंग्रेजी तापसी के पसंदीदा विषयों में एक था, इसलिए अंग्रेजी की शिक्षिका सुरुचि गाँधी से उन्हें विशेष लगाव था। पिछले हफ्ते तापसी ने अंग्रेजी की अपनी इसी शिक्षिका के समर्थन में दिल्ली का दौरा किया, जो अब दिल्ली के द्वारका स्थित बाल भारती पब्लिक स्कूल की प्रधानाध्यापक बन चुकी हैं। तापसी को जब खबर मिली कि उनकी पसंदीदा शिक्षिका सुरुचि गाँधी को विद्यालय के प्रधानाध्यापक के तौर पर पदोन्नति मिली है, तब वह अपनी शिक्षिका को बधाई देने और उनका समर्थन करने के लिए दिल्ली पहुंचने से खुद को रोक नहीं सकीं। तापसी हमेशा से अपनी जड़ों से जुड़ी हुई रही हैं और उन्होंने इस प्रकार की उपलब्धियों से जुड़ने तथा इस प्रकार के कार्यक्रमों एवं घटनाओं का समर्थन करने के अवसर को कभी हाथ से जाने नहीं दिया है। उनके सहयोग के बदले बाल भारती पब्लिक स्कूल की ओर से तापसी के लिए एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जहां स्कूल के छात्रों ने उन्हें अपने आश्चर्यजनक प्रदर्शन एवं शो के जरिये मंत्रमुग्ध कर दिया। तापसी के साथ-साथ यह उन सभी लोगों के लिए गर्व का क्षण था, जो इस समारोह के साथ जुड़े थे।

अपने संबोधन में, तापसी ने छात्रों को विद्यालय की हर गतिविधि में स्वयं को शामिल करने तथा अपनी कौशल एवं प्रतिभा को बेहतर बनाने के हर अवसर के उपयोग के लिए प्रेरित किया और सबसे महत्वपूर्ण बात यह थी कि उन्होंने छात्रों को कभी हार नहीं मानने की सलाह दी। अपने वक्तव्य में उन्होंने दर्शकों के दिल के तारों को छूते हुए अपनी जीवन-यात्रा के बारे में बताया, और कहा कि उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने तथा पाठ्येतर गतिविधियों में शामिल होने के प्रत्येक अवसर का लाभ उठाने के बीच किस प्रकार संतुलन बनाया, और उनके इसी प्रयास में उन्हें स्कूल की हेड गर्ल के तौर पर निर्वाचित होने में योगदान दिया।

जब तापसी से दिल्ली स्कूल आने और अपनी शिक्षिका का समर्थन करने के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, “मैं हमेशा से अपने विद्यालय के शिक्षकों के प्रति आभारी रही हूँ जिनका मेरे आज के व्यक्तित्व के निर्माण में अहम योगदान है, और मुझे अपने अंग्रेजी शिक्षिका की बातें वास्तव में आज तक याद हैं। उन्होंने हमेशा मेरी मदद की और सार्वजनिक संवाद गतिविधियों को बेहतर बनाने में योगदान दिया, जिससे मुझे आत्मविश्वास हासिल हुआ। इतने कम समय की सूचना के बावजूद उन्होंने मेरे लिए इस शो का आयोजन किया, जिसने मेरे दिल को छू लिया। यहां के सभी छात्र बेहद प्यारे हैं। इन सुंदर यादों को मैं लंबे अरसेतक अपने दिल में संजोए रखूंगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here