जया की मुसीबतों के साथ वापसी

0
1201

सोनी सब के ‘सजन रे फिर झूठ मत बोलो’ में जया की याद्दाश्त खोने के बाद शो की कहानी दिन-प्रतिदिन बेहद भावनात्मक और दिलचस्प होती जा रही है।

इस शो की आगामी कहानी में हम देखेंगे कि जय और जया गरीबघर में लौट आये हैं और उसके परिवार वालों को महसूस होता है कि वह थोड़ा अलग व्यवहार कर रही है। जया (पार्वती वेज़) काफी जिज्ञासु है और आस-पास की हर चीज को लेकर उसे संदेह होता है। जय जहां एक ओर, जया को नये साल के 2018 की तारीख की अखबार नहीं पढ़ने देने में सफल हो जाता है, वहीं दूसरी ओर, लोखंडे (शरद पोंकशे) और प्रेमचंद (टिकु तलसानिया) उसे रेडियो पर भी खबर सुनने से रोकते हैं।

प्रेमचंद और जय से लोखंडे कहते हैं कि अपनी ही बेटी से उसकी याद्दाश्त खोने के बारे में झूठ बोलकर उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है, इसलिये वह ज्ञानचंद से मिलना चाहते हैं। ज्ञानचंद लोखंडे को बताते हैं कि यदि किसी झूठ से किसी का भला होता हो, वह पाप नहीं है। लोखंडे को यह सुनकर थोड़ी राहत मिलती है और वह ज्ञानचंद को गले लगा लेते हैं। लेकिन दुर्भाग्य से उनकी दाढ़ी लोखंडे के कुर्ते में फंस जाती है। अब प्रेमचंद और जय (हुसैन कुवजेरवाला) मुसीबत में हैं और इस स्थिति से उन्हें निपटना है।

प्रेमचंद और दीपक सभी अखबारों एवं कैलेंडर की तारीख 2012 में बदलने की व्यवस्था कर रहे हैं ताकि जया को सच पता नहीं चल पाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here