जलेबी और फाफड़ा है वत्सल शेठ की कमजोरी

0
626
Vatsal Sheth in Haasil.

शो हासिल‘ के वत्सल सेठ पूरी तरह से भोजन प्रेमी हैंजबकि उनके सहयोगी जायद खान व ​निकिता दत्ता खाने और कसरत के बीच में सेहतमंद संतुलन बनाए रखने में विश्वास करते हैं। वत्सल को अपने खाने से जितना प्यार है उतना दुनिया में किसी और चीज से नहीं है और वह अपने सबसे पसंदीदा स्नैक्स जलेबी व फाफड़ा के बिना तो जैसे रह ही नहीं सकते हैं! इतना ही नहींवह बेहद शरारती भी हैंउन्हें व्यायाम के बेहद कठिन नियम का पालन करने वाले अपने सेहत के प्रति बेहद सजग दोस्तों जायद व निकिता को चिढ़ाते हुए भी देखा जा सकता है,जिन्हें चिढ़ाने के लिए वे सेट पर स्वादिष्ट स्ट्रीट फूड लाकर खाते हैं। असल मेंनिकिता को मीठा बहुत ज्यादा पसंद है और मिठाई के लिए न कहना उन्हें बहुत मुश्किल भी लगता है। वहीं दूसरी ओरजायद को खाना बनाना पसंद है और वह कभी भी अपने दोस्त वत्सल को खाना खिलाने का मौका नहीं चूकते हैंजो पूरे दिल से शनदार शाकाहारी खाने का मजा लेते हैं।

वत्सल कहते हैंमैं जो भी खाना चाहता हूंवह खाता हूं। मुझे लगता है कि हम खाने की वजह से मोटे नहीं होते हैंबल्कि बहुत ज्यादा खाने की वजह से होते हैं जो हमारा वजन बढ़ाता है। मैं पूरी तरह से फूडी हूं और कभी भी जलेबीफाफड़ासमोसा या चाट को न नहीं कह सकता हूं। मैं नियमित रूप से 45 मिनट कसरत करता हूं और लेकिन अगर मैं कसरत नहीं कर पाया तो उसकी भरपाई मैं क्रिकेट खेलकर या स्वीमिंग जैसी शारीरिक गतिविधियों से करता हूंजो मुझे मेरा वजन संतुलित रखने में मदद करते हैं। मैं हमेशा ही निकिता व जायद को खाने को लेकर बहुत ज्यादा सजग होने के लिए चिढ़ाता हूं और अपने सभी पसंदीदा व्यंजनों से उन्हें लुभाता भी रहता हूं लेकिन कभी इस तरह के मनबहलाव में नहीं फंसते हैं।

शो हासिल‘ के वत्सल सेठ पूरी तरह से भोजन प्रेमी हैंजबकि उनके सहयोगी जायद खान व ​निकिता दत्ता खाने और कसरत के बीच में सेहतमंद संतुलन बनाए रखने में विश्वास करते हैं। वत्सल को अपने खाने से जितना प्यार है उतना दुनिया में किसी और चीज से नहीं है और वह अपने सबसे पसंदीदा स्नैक्स जलेबी व फाफड़ा के बिना तो जैसे रह ही नहीं सकते हैं! इतना ही नहींवह बेहद शरारती भी हैंउन्हें व्यायाम के बेहद कठिन नियम का पालन करने वाले अपने सेहत के प्रति बेहद सजग दोस्तों जायद व निकिता को चिढ़ाते हुए भी देखा जा सकता है,जिन्हें चिढ़ाने के लिए वे सेट पर स्वादिष्ट स्ट्रीट फूड लाकर खाते हैं। असल मेंनिकिता को मीठा बहुत ज्यादा पसंद है और मिठाई के लिए न कहना उन्हें बहुत मुश्किल भी लगता है। वहीं दूसरी ओरजायद को खाना बनाना पसंद है और वह कभी भी अपने दोस्त वत्सल को खाना खिलाने का मौका नहीं चूकते हैंजो पूरे दिल से शनदार शाकाहारी खाने का मजा लेते हैं।

वत्सल कहते हैंमैं जो भी खाना चाहता हूंवह खाता हूं। मुझे लगता है कि हम खाने की वजह से मोटे नहीं होते हैंबल्कि बहुत ज्यादा खाने की वजह से होते हैं जो हमारा वजन बढ़ाता है। मैं पूरी तरह से फूडी हूं और कभी भी जलेबीफाफड़ासमोसा या चाट को न नहीं कह सकता हूं। मैं नियमित रूप से 45 मिनट कसरत करता हूं और लेकिन अगर मैं कसरत नहीं कर पाया तो उसकी भरपाई मैं क्रिकेट खेलकर या स्वीमिंग जैसी शारीरिक गतिविधियों से करता हूंजो मुझे मेरा वजन संतुलित रखने में मदद करते हैं। मैं हमेशा ही निकिता व जायद को खाने को लेकर बहुत ज्यादा सजग होने के लिए चिढ़ाता हूं और अपने सभी पसंदीदा व्यंजनों से उन्हें लुभाता भी रहता हूं लेकिन कभी इस तरह के मनबहलाव में नहीं फंसते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here