दर्शकों को पुरानी यादों को ताजा करने का मौका मिलेगा : Barkha Bisht

0
1111
Barkha Bisht

खूबसूरत और बहुमुखी प्रतिभा वाली अभिनेत्री बरखा बिष्ट सोनी सब के कॉमेडी सिटकॉम ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’, से वापसी कर रही हैं। बरखा बिष्ट, डॉल (प्रेमा शालिनी) का किरदार निभाती नजर आयेंगी। प्रेमा शालिनी एक जानी-मानी अभिनेत्री, प्यारी, आत्ममुग्ध और आकर्षक महिला है, जो ‘मैं अपनी फेवरेट हूं’ कथन पर पूरा भरोसा करती है। यहां उन्होंने अपने किरदार के बारे में खुलकर बात की हैः

आपने इस भूमिका के लिये कैसे तैयारी की है? क्या कोई चुनौतियां रहीं?

अर्चना पुरन सिंह के रूप में प्रेमा शालिनी के इस किरदार के लिये तैयारी करना बहुत मुश्किल नहीं था क्योंकि उन्होंने अपनी अदाकारी से पहले ही इसका स्तर बहुत ऊपर कर दिया है। बस मैंने इतना किया कि किरदार में खुद को ढालने के लिये इस शो के हरेक एपिसोड को एक-एक करके देखा। मैं उनसे अलग कुछ नहीं करना चाहती थी क्योंकि उन्होंने उस भूमिका को बखूबी निभाया था। निश्चित रूप से मेरा व्यक्तित्व उसमें होगा, लेकिन मैं चाहूंगी कि इस किरदार की खूबियां उसी तरह बरकरार रहें। मेरी बस यही तैयारी है कि मैंने अर्चना जी को देख रही हूं और मैं उनकी भूमिका निभाने के लिये बेहद उत्साहित हूं।

इस ऐतिहासिक शो ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’ का हिस्सा बनने पर कैसा महसूस हो रहा है, जोकि नब्बे के दशक में टेलीविजन पर बेहद लोकप्रिय रहा है?

इस शो का हिस्सा बनना मेरे लिये सम्मान की बात है। यह हमेशा से मेरा सबसे पसंदीदा कॉमेडी शो रहा है और इस आधिकारिक ओरिजनल रीमेक का हिस्सा बनने पर वाकई बहुत अच्छा महसूस हो रहा है।

आपको गंभीर भूमिकाएं निभाने के लिये जाना जाता है। आपने इस कॉमिक किरदार के लिये हामी क्यों भरी?

हर चीज के लिये पहली बार ही होता है। पहले भी मुझे कॉमिक भूमिकाओं का ऑफर मिला था लेकिन मुझे वह दिलचस्प नहीं लगी थीं। जब मुझे इस किरदार के लिये पूछा गया तो एक बार सोचे बिना ही इसके लिये हां कह दिया। यह एक खास भूमिका है, जिसे अर्चना पुरन सिंह जी ने निभाया था। चूंकि मैं पहली बार कॉमेडी कर रही थी, मैं सचमुच खुद को इस भूमिका में देखना चाहती थी। साथ ही मैं दर्शकों की प्रतिक्रिया के लिये बेहद उत्साहित थी।

अपने किरदार के बारे में बतायें।

प्रेमा शालिनी की सबसे बड़ी खासियत है कि खुद को पसंद करने का उसका अंदाज बड़ा ही प्यारा है। वह पेशे से एक अभिनेत्री है और वह खुद को जिस तरह से पसंद करती है, वैसे कोई और नहीं कर सकता। उसके अनुसार, हर चीज बिलकुल सटीक होनी चाहिये, बालों से लेककर, मेकअप और कपड़ों तक। प्रेमा शालिनी अपने काम के प्रति बहुत ईमानदार है और उसका एक प्यारा पति है, जिसे वह बहुत प्यार करती है लेकिन कभी-कभी उसे गंभीरता से नहीं लेती।

अपने को-स्टार्स के साथ आपका तालमेल कैसा है?

अपने को-स्टार्स के साथ मेरा तालमेल कमाल का है। यह पहली बार है कि मैं उनके साथ काम रही हूं और उन्होंने मेरी वाकई काफी मदद की है। वे सभी कॉमेडी से जुड़े हुए लोग हैं और उनका अभिनय बेहतरीन है। उन्होंने अब तक सचमुच बहुत मदद की है। हम लोग एक परिवार की तरह बन चुके हैं।

कॉमेडी में आपकी प्रेरणा कौन हैं?

मुझे नहीं लगता कि कॉमेडी में मेरी कोई प्रेरणा हैं, क्योंकि मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इस जोनर में काम करूंगी। कहने का मतलब है कि मेरे को-स्टार्स मेरी सबसे बड़ी प्रेरणा हैं क्योंकि उनमें से हर किसी का अपना एक अलग अंदाज है और उनको रोज-रोज देखकर प्रेरणा लेती रहती हूं।

इस शो के ओरिजनल ‘श्रीमान श्रीमती’ में आपका पसंदीदा किरदार कौन-सा था?

पहले वाले शो में मेरा पसंदीदा किरदार केशव कुलकर्णी था। वह प्रेमा शालिनी से प्यार करता है और वह उसको प्रभावित करने, उसे लाड़ करने में लगा रहता है। वह उसे बहुत ज्यादा तवज्जो देता है और उससे मिलने वाला इतना प्यार उसे पसंद है।

सुरेश मेनन उर्फ दिलरूबा, आपके ऑन-स्क्रीन पति के साथ काम करने का अनुभव कैसा है?

मैं सुरेश मेनन को काफी लंबे समय से जानती हूं। यह पहली बार है कि हम एक साथ काम कर रहे हैं, लेकिन हमारे बीच काफी अच्छा तालमेल है। वह बहुत ही शांत, मदद करने में आगे और खुशमिज़ाज हैं, इसलिये उनके साथ काम करने में मजा आता है। वह एक बेहतरीन कलाकार हैं, जिनसे मुझे काफी कुछ सीखने में मदद मिली है। अब सुरेश और मेरे बीच सबसे मजेदार बात यह है कि हम जहां कहीं भी किसी कार्यक्रम में मिलते हैं, एक-दूसरे को डॉल और दिलरूबा बुलाते हैं।

इस शो की शूटिंग के दौरान कोई ऐसी यादगार घटना घटी हो, जो आप हमें बताना चाहती हों?

ऐसा कोई वाकया तो नहीं है, लेकिन मेरे लिये हर दिन यादगार होता है क्योंकि मैं सेट पर सारा दिन हंसती रहती हूं। खासतौर से जब हम किसी चीज की रिहर्सल कर रहे होते हैं, सुरेश कुछ कहते हैं और उसके बाद मेरी हंसी रुकती ही नहीं है। साथ ही मैं पहली बार कोई कॉमेडी शो कर रही हूं और यह वाकई मेरे लिये बहुत मजेदार है। हम हमेशा अपने किरदार में रहते हैं।

पहले वाले से यह ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’ किस तरह अलग है?

यह शो पूरी तरह पहले वाले की तरह ही है, बस चेहरे अलग हैं। वह शो बिलकुल सटीक था, इसलिये हमने स्क्रिप्ट, डायलॉग सबकुछ वैसे का वैसा ही रखा। इसलिये, शक्लें बदल गई हैं, लेकिन अंदाज वही है।

इस शो से दर्शकों को क्या अपेक्षाएं होनी चाहिये?

दर्शकों को पुरानी यादों को ताजा करने का मौका मिलेगा। हमारा शो साधारण है और मजेदार है और हम अपने अंदाज में ‘श्रीमान श्रीमती’ के ओरिजनल किरदारों को लेकर आ रहे हैं।

टीवी, मोबाइल और डिजिटल में इतनी कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच, यह शो दर्शकों का कितना मनोरंजन कर पायेगा?

यह शो नब्बे के दशक का ऐतिहासिक कॉमेडी शो रहा है। इसने दर्शकों को लुभाया है और मुझे उम्मीद है कि अब भी ऐसा ही होगा। प्रतिस्पर्धा तो हमेशा से रही है, हर जगह होती है और हम उसका सामना करने के लिये तैयार हैं।

दर्शकों को पुरानी यादों को ताजा करने का मौका मिलेगा : बरखा बिष्ट

खूबसूरत और बहुमुखी प्रतिभा वाली अभिनेत्री बरखा बिष्ट सोनी सब के कॉमेडी सिटकॉम ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’, से वापसी कर रही हैं। बरखा बिष्ट, डॉल (प्रेमा शालिनी) का किरदार निभाती नजर आयेंगी। प्रेमा शालिनी एक जानी-मानी अभिनेत्री, प्यारी, आत्ममुग्ध और आकर्षक महिला है, जो ‘मैं अपनी फेवरेट हूं’ कथन पर पूरा भरोसा करती है। यहां उन्होंने अपने किरदार के बारे में खुलकर बात की हैः

आपने इस भूमिका के लिये कैसे तैयारी की है? क्या कोई चुनौतियां रहीं?

अर्चना पुरन सिंह के रूप में प्रेमा शालिनी के इस किरदार के लिये तैयारी करना बहुत मुश्किल नहीं था क्योंकि उन्होंने अपनी अदाकारी से पहले ही इसका स्तर बहुत ऊपर कर दिया है। बस मैंने इतना किया कि किरदार में खुद को ढालने के लिये इस शो के हरेक एपिसोड को एक-एक करके देखा। मैं उनसे अलग कुछ नहीं करना चाहती थी क्योंकि उन्होंने उस भूमिका को बखूबी निभाया था। निश्चित रूप से मेरा व्यक्तित्व उसमें होगा, लेकिन मैं चाहूंगी कि इस किरदार की खूबियां उसी तरह बरकरार रहें। मेरी बस यही तैयारी है कि मैंने अर्चना जी को देख रही हूं और मैं उनकी भूमिका निभाने के लिये बेहद उत्साहित हूं।

इस ऐतिहासिक शो ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’ का हिस्सा बनने पर कैसा महसूस हो रहा है, जोकि नब्बे के दशक में टेलीविजन पर बेहद लोकप्रिय रहा है?

इस शो का हिस्सा बनना मेरे लिये सम्मान की बात है। यह हमेशा से मेरा सबसे पसंदीदा कॉमेडी शो रहा है और इस आधिकारिक ओरिजनल रीमेक का हिस्सा बनने पर वाकई बहुत अच्छा महसूस हो रहा है।

आपको गंभीर भूमिकाएं निभाने के लिये जाना जाता है। आपने इस कॉमिक किरदार के लिये हामी क्यों भरी?

हर चीज के लिये पहली बार ही होता है। पहले भी मुझे कॉमिक भूमिकाओं का ऑफर मिला था लेकिन मुझे वह दिलचस्प नहीं लगी थीं। जब मुझे इस किरदार के लिये पूछा गया तो एक बार सोचे बिना ही इसके लिये हां कह दिया। यह एक खास भूमिका है, जिसे अर्चना पुरन सिंह जी ने निभाया था। चूंकि मैं पहली बार कॉमेडी कर रही थी, मैं सचमुच खुद को इस भूमिका में देखना चाहती थी। साथ ही मैं दर्शकों की प्रतिक्रिया के लिये बेहद उत्साहित थी।

अपने किरदार के बारे में बतायें।

प्रेमा शालिनी की सबसे बड़ी खासियत है कि खुद को पसंद करने का उसका अंदाज बड़ा ही प्यारा है। वह पेशे से एक अभिनेत्री है और वह खुद को जिस तरह से पसंद करती है, वैसे कोई और नहीं कर सकता। उसके अनुसार, हर चीज बिलकुल सटीक होनी चाहिये, बालों से लेककर, मेकअप और कपड़ों तक। प्रेमा शालिनी अपने काम के प्रति बहुत ईमानदार है और उसका एक प्यारा पति है, जिसे वह बहुत प्यार करती है लेकिन कभी-कभी उसे गंभीरता से नहीं लेती।

अपने को-स्टार्स के साथ आपका तालमेल कैसा है?

अपने को-स्टार्स के साथ मेरा तालमेल कमाल का है। यह पहली बार है कि मैं उनके साथ काम रही हूं और उन्होंने मेरी वाकई काफी मदद की है। वे सभी कॉमेडी से जुड़े हुए लोग हैं और उनका अभिनय बेहतरीन है। उन्होंने अब तक सचमुच बहुत मदद की है। हम लोग एक परिवार की तरह बन चुके हैं।

कॉमेडी में आपकी प्रेरणा कौन हैं?

मुझे नहीं लगता कि कॉमेडी में मेरी कोई प्रेरणा हैं, क्योंकि मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इस जोनर में काम करूंगी। कहने का मतलब है कि मेरे को-स्टार्स मेरी सबसे बड़ी प्रेरणा हैं क्योंकि उनमें से हर किसी का अपना एक अलग अंदाज है और उनको रोज-रोज देखकर प्रेरणा लेती रहती हूं।

इस शो के ओरिजनल ‘श्रीमान श्रीमती’ में आपका पसंदीदा किरदार कौन-सा था?

पहले वाले शो में मेरा पसंदीदा किरदार केशव कुलकर्णी था। वह प्रेमा शालिनी से प्यार करता है और वह उसको प्रभावित करने, उसे लाड़ करने में लगा रहता है। वह उसे बहुत ज्यादा तवज्जो देता है और उससे मिलने वाला इतना प्यार उसे पसंद है।

सुरेश मेनन उर्फ दिलरूबा, आपके ऑन-स्क्रीन पति के साथ काम करने का अनुभव कैसा है?

मैं सुरेश मेनन को काफी लंबे समय से जानती हूं। यह पहली बार है कि हम एक साथ काम कर रहे हैं, लेकिन हमारे बीच काफी अच्छा तालमेल है। वह बहुत ही शांत, मदद करने में आगे और खुशमिज़ाज हैं, इसलिये उनके साथ काम करने में मजा आता है। वह एक बेहतरीन कलाकार हैं, जिनसे मुझे काफी कुछ सीखने में मदद मिली है। अब सुरेश और मेरे बीच सबसे मजेदार बात यह है कि हम जहां कहीं भी किसी कार्यक्रम में मिलते हैं, एक-दूसरे को डॉल और दिलरूबा बुलाते हैं।

इस शो की शूटिंग के दौरान कोई ऐसी यादगार घटना घटी हो, जो आप हमें बताना चाहती हों?

ऐसा कोई वाकया तो नहीं है, लेकिन मेरे लिये हर दिन यादगार होता है क्योंकि मैं सेट पर सारा दिन हंसती रहती हूं। खासतौर से जब हम किसी चीज की रिहर्सल कर रहे होते हैं, सुरेश कुछ कहते हैं और उसके बाद मेरी हंसी रुकती ही नहीं है। साथ ही मैं पहली बार कोई कॉमेडी शो कर रही हूं और यह वाकई मेरे लिये बहुत मजेदार है। हम हमेशा अपने किरदार में रहते हैं।

पहले वाले से यह ‘श्रीमान श्रीमती फिर से’ किस तरह अलग है?

यह शो पूरी तरह पहले वाले की तरह ही है, बस चेहरे अलग हैं। वह शो बिलकुल सटीक था, इसलिये हमने स्क्रिप्ट, डायलॉग सबकुछ वैसे का वैसा ही रखा। इसलिये, शक्लें बदल गई हैं, लेकिन अंदाज वही है।

इस शो से दर्शकों को क्या अपेक्षाएं होनी चाहिये?

दर्शकों को पुरानी यादों को ताजा करने का मौका मिलेगा। हमारा शो साधारण है और मजेदार है और हम अपने अंदाज में ‘श्रीमान श्रीमती’ के ओरिजनल किरदारों को लेकर आ रहे हैं।

टीवी, मोबाइल और डिजिटल में इतनी कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच, यह शो दर्शकों का कितना मनोरंजन कर पायेगा?

यह शो नब्बे के दशक का ऐतिहासिक कॉमेडी शो रहा है। इसने दर्शकों को लुभाया है और मुझे उम्मीद है कि अब भी ऐसा ही होगा। प्रतिस्पर्धा तो हमेशा से रही है, हर जगह होती है और हम उसका सामना करने के लिये तैयार हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here