दीपकों के दौर में लौटा ‘चंद्रशेखर’

0
970
chandrashekar

स्टार भारत का नया शो ‘चंद्रशेखर’ अपने कंटेंट और कलाकारों के बेहतरीन अभिनय की वजह से दर्शकों को काफी पसंद आ रहा है। शो को हरसंभव वास्तविक दिखाने के लिए चंद्रशेखर आजाद के जीवन पर आधारित कई शोध और सही तथ्यों के आधार पर इसका प्रदर्शन किया जा रहा है।

इतिहास को जीवंत करने उद्देश्य से शो के निर्माता उस दौर में पहुंच गए जब बिजली नहीं थी और कुआं पानी का एकमात्र साधन था। रात के सीन के लिए वे मोमबत्ती की रोशनी में  शूटिंग करते हैं। एक ऐसे दौर में जहां जिंदा रहने के लिए लोगों को एसी की जरूरत है, कलाकार अपनी शो को वास्तविक दिखाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। कहानी को असली  दिखाने के लिए सेट की लोकेशन मिट्टी के घर और पुआल की छत से तैयार की गई है।

 

स्नेहा वाघ कहती हैं, “ शो को बेस्ट और चंद्रशेखर आजाद की तरह असली दिखाने के लिए निर्माता पूरा जतन कर रहे हैं। हर दिन हम अलग-अलग परिस्थितियों में शूट करते हैं। इससे हमें जमीन से जुड़े रहने और आपके पास जितना हो उसमें खुश रहने की प्रेरणा मिलती है।”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here