देवेन भोजानी टीवी का चर्चित चेहरा

0
175
Deven Bhojani as Anna in Bhakharwadi

देवेन भोजानी 

देवेन भोजानी टीवी का चर्चित चेहरा है. उनके बारे में हम कह सकते हें कॉमेडी में उनका अपना अलग रुतबा है,  सोनी सब के नए कॉमेडी ड्रामा ‘भाखरवड़ी’ में वोह अन्‍ना का किरदार निभा रहें हें, इस इमोशनल ह्यूमर से भरपूर ड्रामा के बारे में उनसे सेट्स पर विस्तार से चर्चा हुई.

Deven Bhojani as Anna in Bhakharwadi

भाखरवड़ी’ शो का कॉन्‍सेप्‍ट क्‍या है?

मेरे हिसाब से यह शो जिंदगी का एक सार है, जिसमें दो परिवार मुख्‍य भूमिका निभा रहे हैं। एक मराठी परिवार है और दूसरा गुजराती, दोनों ही एक ही जगह पर भाखरवड़ी का बिजनेस कर रहे हैं और इसलिये इस शो का नाम ‘भाखरवड़ी’ रखा गया। परिवार के दोनों मुखिया आपस में प्रतिद्वंद्वी बन गये हैं और उनके बेटे व बेटी के बीच प्‍यार हो जाता है, बस इतनी सी यह कहानी है।

साराभाई वर्सेज साराभाई’, ‘खिचड़ी’ और बा बहू और बेबी’ जैसे हिट शोज देने के बादभाखरवड़ी’ से आपकी क्‍या उम्‍मीदें हैं?

इन सारे शोज़ के साथ जुड़ने को लेकर मुझे गर्व हैक्‍योंकि मैं उन तीनों में ही मैंने लंबे समय तक काम किया था। उन तीनों को ही काफी सराहा गया था और सबसे बड़ी बात यह है कि तीनों का ही कॉन्‍सेप्‍ट एक-दूसरे से बिलकुल अलग है। मुझे ऐसा लगता है भाखरवड़ी’ अपना ही एक जोनर तैयार करेगाजोकि बेहद अनूठा होगा और वही इस शो की यूएसपी होगी। इस शो के किरदार ऐसे हैं जिन्‍हें आपने टेलीविजन पर शायद ही पहले देखा होगा और मैं अपना सर्वश्रेष्‍ठ देने की भरपूर कोशिश कर रहा हूं और इस किरदार के साथ पूरी ईमानदारी निभाने की।

अपने किरदार अन्‍ना के बारे में कुछ बतायें…..

अन्‍ना इस कहानी का नायक है और सिद्धांतों को मानने वाला है। यह कहानी उसके, उसके परिवार और उसके नये दोस्‍त महेंद्र के इर्द-गिर्द बुनी गयी है, जोकि बाद में दुश्‍मन बन जाता है। वह बहुत ही सख्‍त है और पुराने जमाने से जुड़ा हुआ है, क्‍योंकि वह अपने मूल्‍यों को बहुत मानता है।

जेडी मजेठिया और आतिश कपाडि़याके साथ काम करने के लिये आप कितने उत्‍सुक हैं?

हमने एक साथ कई सारे शोज किये हैं और इसलिये हमारे (परेश गनात्रा सहित) बीच इतना अच्‍छा तालमेल हैहम भाइयों जैसे हैं। इसलियेएक-दूसरे के साथ हम काफी सहज हैंजिससे किरदार और इस शो को काफी मदद मिलीक्‍योंकि हम एक-दूसरे से खुलकर बोल सकते हैं। दरअसल ये सब इस शो के लेखक आतिश से शुरू हुआवह बीज की तरह हैं। वह अपने बच्‍चों की तरह अपने किरदारों को गढ़ते हैं। मैंने यह देखा है कि जेडी क्रिएटिव रूप में अपना काफी सहयोग दे रहे हैं। इसलियेमैं इस शो का और भी ज्‍यादा आनंद ले रहा हूं।

इस तरह का मुख्‍य किरदार निभाना कितना चुनौतीपूर्ण होता हैइस तरह के कड़े सिद्धांतों को मानना और उनका पालन करनाइस बारे में आपकी क्‍या राय है?

कुछ हद तक मैं इस किरदार से खुद को जोड़ पाता हूं। मैंने प्रत्‍यक्ष या अप्रत्‍यक्ष रूप से इस तरह के किरदार अपने परिवार या पड़ोस में देखे हैं या अपने आस-पास के जानने वालों में। कई बार आपको ऐसा महसूस होगा कि अन्‍ना गलत हैलेकिन उसके बावजूद आप इस किरदार की पसंद की वजह से उसे प्‍यार करेंगे। तो यह किरदार ही इतना समृद्ध है कि हर किसी को इसे निभाने का मौका नहीं मिला और मुझे ऐसा लगता है कि ऐसा दमदार किरदार निभाने का मौका मिला।

क्‍या आपके किरदार और वास्‍तविक जीवन में कोई समानता है?

 मैं भी कई बार अड़ जाता हूं और अन्‍ना की तरह ही कुछ सिद्धांतों को मानता हूं।

क्‍या असलियत में आपको पता है कि भाखरवड़ी’ किस तरह बनती है

मैं बस भाखरवड़ी खाना जानता हूंचाहे वह महाराष्ट्रियन भाखरवड़ी हो या‍ फिर गुजराती भाखरवड़ी।

दर्शकों को भाखरवड़ी’ में क्‍या पसंद आने वाला है?

सब कुछ। मुझे ऐसा लगता है कि दर्शकों को यह शो पसंद आने वाला हैइसका कॉन्‍सेप्‍टजिस तरह से रिश्‍तों को दिखाया गया हैइसका ह्यूमरड्रामाइमोशन और सबसे जरूरी बात इस शो का नयापन।

यदि आप वास्‍तविक जीवन में अन्‍ना की जगह होंगे तो आप इस तरह के प्रतिद्वंद्वी से किस तरह निपटेंगे?

सबसे पहली बात तो यह कि इस तरह के मामले में मैं अन्‍ना की तरह नहीं हूं। मैं प्रतिस्‍पर्धी नहीं हूं और इस तरह की प्रतिस्‍पर्धा से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। खुद से अपनी तुलना में मैं आमतौर पर खुद को बेहतर बनने की कोशिश करता हूं। मुझे तो अच्‍छा महसूस होता है यदि कोई बेहतर कर रहा होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here