रामा की जिंदगी में बौने ने खड़ी की मुसीबत

0
1081

The dwarf in Sony SAB Tenali Rama

आगामी एपिसोड में हम देखेंगे कि बाजार की कुछ दुकानों में चीजों की जैसे बाढ़ आई हुई है। शारदा और अम्मा भी बहुत सारी चीजें खरीद लेती हैं, क्योंकि वे काफी सस्ते मिल रहे होते हैं। एक दुकान पर उन्हें बाकी चीजों के साथ बच्चे का पालना दिखता है, और भविष्य में इस्तेमाल के लिये उसे खरीद लेती हैं। घर लौटने के क्रम में रास्ते में उनकी मुलाकात वरूणमाला से हो जाती है और उसके पास भी बच्चों का वही पालना होता है। दोनों ही महिलाओं को बच्चे की चाहत होती है। वरुणमाला को एक उपाय सूझता है और वह शारदा और अम्मा के साथ एक अघोरी बाबा गंगू गेहान से मिलवाने ले जाती है। वह अघोरी बाबा अपने जादू से शादीशुदा जोड़ों को संतान के जन्म का आर्शीवाद देने के लिये जाना जाता है। वह वरुणमाला को एक सेब देता है और शारदा को एक आम। उन दोनों को बच्चे के जन्म के लिये जंगल में एक बरगद के पेड़ के नीचे उन्हें रखने के लिये कहता है।

वरुणमाला और शारदा दोनों घर जाकर क्रमशः तथाचार्य (पंकज बैरी) और रामा (कृष्ण भारद्वाज) को जंगल जाकर बरगद के पेड़ के नीचे जाकर उन फलों को रखने के लिये दबाव डालती है। वे दोनों बड़े ही बेमन से ऐसा करने के लिये तैयार हो जाते हैं और रात में उस काम को अंजाम देते हैं। उनके जाने के बाद, जमीन के अंदर से एक बौना प्रकट होता है, जहां उन्होंने फलों को दबाकर रखा था।

अगले दिन धनी और मनी, को बाजार घूमने के दौरान वह बौना मिलता है, जोकि अपने माता-पिता को शहर में ढूंढ़ रहा होता है। दोनों उसकी पहचान तथाचार्य के बच्चे के रूप में करते हैं, क्योंकि उसका हाव-भाव उनसे मिलता-जुलता है। लेकिन तथाचार्य अघोरी बाबा को धन देकर दरबार में उससे यह घोषणा करवा लेता है कि वह बौना रामा का बच्चा है क्योंकि वह आम से पैदा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here