लोगों को यकीन दिलाने में बहुत माहिर नहीं  : अमि त्रिवेदी

0
1196
Ami Trivedi as Rupal Desai in Sony Sab Saat Phero Ki Hera Pherie

प्रतिभाशाली और विविधतापूर्ण अभिनय करने वाली अभिनेत्री अमि त्रिवेदी सोनी सब के आगामी शो ‘सात फेरों की हेराफेरी से वापसी कर रही हैं। वह रूपल देसाई का किरदार निभा रही हैं, जिसे अपने पति को काबू में रखना पसंद है और दिखावा करना भी। रूपल का दिमाग बहुत चंचल है। कपड़ों की तरह ही वह अपने किसी एक फैसले या बिजनेस आइडिया पर बहुत देर तक टिकी नहीं रह पाती। इतना ही नहीं उसके करीबी दोस्त भी उससे बच नहीं पाये हैं और उनकी कमियां निकालने में भी उसे मजा आता है। अपनी भूमिका के बारे में अमि त्रिवेदी से संक्षिप्त बातचीत।

आप 3 साल के बाद टीवी पर वापसी कर रही हैं, कोई वजह?

नहीं, पूरे तीन साल तो नहीं, मुझे लगता है, सिर्फ एक साल ही मैं टीवी से दूर रही हूं। 2017 में मैं एक गुजराती नाटक कर रही थी। मैं काम कर रही थी लेकिन टेलीविजन पर नहीं।

हमने आपको केवल कॉमेडी शोज में ही देखा है, केवल कॉमेडी चुनने की क्या वजह है?

हां, मुझे कॉमेडी करना पसंद है, क्योंकि एक कलाकार के तौर पर यह मुझे अच्छा महसूस कराता है, जिसे करने में इन दिनों मुझे काफी मजा आ रहा है। मुझे काफी कुछ सीखने का मौका मिला है, यह कभी नहीं सोचना चाहिये कि आपको सबकुछ आता है। कॉमेडी के साथ आप हमेशा सीखते रहते हैं। एक कलाकार होने के नाते और थियेटर से जुड़े रहने के कारण मुझे आगे बढ़ने में मदद मिली।

कॉमेडी में आपकी प्रेरणा कौन हैं?

मुझे लगता है कि मैं जितने भी लोगों के साथ काम कर रही हूं… मैंने उन कलाकारों को कॉमेडी करते हुए देखा है और उनसे मुझे सीखने को मिला है। ऐसे कोई ‘एक‘ प्रेरक व्यक्ति नहीं है।

कृपया अपने किरदार के बारे में बतायें

मेरे किरदार का नाम रूपल देसाई है। वह अपने पति को प्यार करती है लेकिन उसका स्वभाव शासन करने वाला है। उसमें एक अकड़ है लेकिन यह नकारात्मक या बुरे रूप में नहीं है। वह प्यारी है लेकिन उसे छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आ जाता है।

रूपल अधिकार जताने वाली पत्नी है, आप अपने वास्तविक जीवन से इसे कितना करीब पाती हैं?

सच कहूं तो मैं खुद को अधिकार जताने वाली तो नहीं कह सकती। इसे केवल परदे पर निभाना ही अच्छा है।

रूपल की तरह रोजमर्रा की जिंदगी में आप लोगों को कितना यकीन दिला पाती हैं? कोई ऐसी मजेदार घटना जो आप बताना चाहें- जब आपने किसी को अपने किये गये कामों के बारे में यकीन दिलाया हो?

मैं हमेशा अपने उस काम को लेकर लोगों को यकीन दिलाना चाहती हूं, जो भी मैंने अभी तक किया है। लेकिन वह हमेशा ही मजेदार हो जाता है। दरअसल मैं लोगों को यकीन दिलाने में बहुत माहिर नहीं हूं, लेकिन लोगों को समझाने के दौरान मेरे दिमाग में जो चल रहा होता है, वह काफी मजेदार होता है।

पहले भी आपने सोनी सब के साथ काम किया है, चैनल पर दोबारा लौटने पर कैसा महसूस हो रहा है?

यह बहुत अद्भुत अहसास है, ऐसा लग रहा है जैसे मैं अपने घर वापस लौट रही हूं। मुझे लगता है कि इस चैनल के साथ मेरा कुछ कनेक्शन है। लोग तो मुझे सोनी सब की कलाकार बुलाते हैं। एक वक्त था जब मैं सिर्फ सोनी सब के लिये ही काम कर रही थी। हमेशा अच्छा महसूस होता है, क्योंकि लोग बहुत ही मिलनसार और दिल खोलकर स्वागत करने वाले हैं। सोनी सब जिस तरह का कंटेंट दिखाते हैं, उससे मुझे इस चैनल के साथ जुड़ने पर गर्व महसूस होता है।

शेखरजी और स्वाति जी जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ काम करने पर कैसा महसूस हो रहा है?

शेखरजी से मिलने पर फैन जैसा अनुभव हो रहा था। मुझे उनका काम बेहद पसंद है। मैं हमेशा उनके शोज देखती आई हूं और उनके साथ काम करना मेरे लिये किसी आश्चर्य से कम नहीं है। वह उन लोगों में से हैं, जिन्होंने भारतीय टेलीविजन पर टॉक शो का चलन शुरू किया था और उन लोगों में से हैं, जिनसे लोगों ने कॉमेडी सीखी है। और अब जबकि मैं उनके साथ परदे पर काम कर रही हूं, उनसे सीखने के लिये काफी कुछ है। वह ना केवल बेहतरीन अभिनेता हैं बल्कि आपको परफॉर्म करने के लिये काफी स्पेस भी देते हैं। स्वातिजी एक कमाल की अदाकारा हैं, उनका चेहरा बड़ा ही खूबसूरत है। वह परी जैसी लगती हैं। वह अपने कॉमिक टाइम में काफी माहिर हैं।

कौन-सी एक ऐसी चीज है, जो आपको पुरुषों/पतियों में अच्छी नहीं लगती?

हालांकि, एक चीज है जो मुझे पुरुषों में या उस मायने में मुझे पसंद नहीं है और वह है आमतौर पर पुरुष जैसे होते हैं उस तरह खुद को दिखाने में ईमानदारी नहीं बरतते। मुझे गुस्से से नफरत है। मेरे हिसाब से ऐसे लोग मेरे लिये मायने रखते हैं, जिन्होंने जीवन में बहुत कुछ हासिल कर लिया है, लेकिन उसके बावजूद वह जमीन से जुड़े रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here