The Greatest comeback story of The Hockey Legend Sandeep Singh

0
137
diljit dosanjh as sandeep singh

बायोपिक सूरमा की रिलीज से पहले, राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह पहले भारतीय हॉकी खिलाड़ी बन गए है जिनका मोम का पुतला बनाया गया है और यह हर भारतीय के लिए गर्व की बात है।

नहरगढ़ किले में स्थित जयपुर वैक्स संग्रहालय में जल्द ही हमारे हॉकी किंवदंती संदीप सिंह की मोम प्रतिमा होगी।

वैक्स स्टेचू के लिए आगंतुकों के बीच संदीप सिंह लोकप्रिय विकल्प रहे है। हर कोई भारत देश के “फ्लिकर सिंह” की मोम की प्रतिमा देखने के लिए नज़रे गड़ाये बैठा था और यह इंतज़ार आखिरकार अब पूरा होगा।

मोम संग्रहालय आगंतुकों द्वारा पोस्ट किए गए सुझावों और अनुरोधों के आधार पर आइकन का चुनाव करते है, और इस सूची में संदीप का नाम  अवल नंबर था।

दिलचस्प बात है कि खेल के इतिहास में बेहतरीन हॉकी खिलाड़ी माने जाने वाले ध्यान चंद का वैक्स स्टेचू भी संदीप सिंह के वैक्स स्टेचू के बाद स्थापित किया जाएगा।

संदीप की कहानी इतनी प्रेरणादायक है कि उनके जीवन पर एक बॉलीवुड बॉयोपीक बनाई जा रही है जिसमे अभिनेता / गायक दिलजीत दोसंघ द्वारा संदीप के किरदार में नज़र आएंगे।

संदीप को दुनिया का सबसे खतरनाक ड्रैग-फ्लिकर में से एक माना जाता है, जिनकी ड्रैग की स्पीड 145 km/hr है और उनकी इस शानदार स्पीड के चलते उन्हें “फ्लिकर सिंह” के नाम से जाना जाता है।

जीत, हार, जीवन और मृत्यु से संघर्ष करने वाले ड्रैग फ्लिकर की कहानी “सूरमा” के रूप में जल्द ही बड़े पर्दे पर दर्शको से रूबरू होगी। शाद अली द्वारा निर्देशित फिल्म में दिलजीत दोसांझ और तापसी पन्नू मुख्य भूमिका में नज़र आएंगे।

“सूरमा” सोनी पिक्चर्स नेटवर्क प्रोडक्शंस, चित्रांगदा सिंह और दीपक सिंह द्वारा निर्मित है। संदीप सिंह के जीवन पर आधारित “सूरमा” 13 जुलाई, 2018 को नज़दीकी सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here